बुध ग्रह: बिना किसी दूरबीन के खाली आंखों से देखें , जानिए कब, कहां और कैसे?

0
112


सौर मंडल का सबसे छोटे ग्रह बुध (Mercury) …

आकाश में आज भी लाखो करोड़ों रहस्य छिपे हुए हैं। ऐसा ही एक रहस्य ग्रहो से भी जुड़ा हुआ है कि आखिर ब्रह्माण्ड में कितने ग्रह या क्षुद्र ग्रह हैं। वही कई ग्रह तो ऐसे भी हैं जो हमारी ही गैलेक्सी में हैं, लेकिन हमें कभी दिखाई नहीं देते यानि जिन्हे हर कोई सीधे अपनी आखों से नहीं देख सकता। ऐसा ही एक ग्रह है हमारे ही सौर मंडल के सबसे छोटे ग्रह बुध…

ऐसे में इस बार 23 जनवरी से 26 जनवरी 2021 तक आकाश में एक खास घटना होने जा रही है। जिसके चलते आप बिना किसी टेलिस्कोप के खाली आंखों से बुध ग्रह को देख सकेंगे। बस आपको ये जानना होगा कि जानिए कब, कहां और कैसे देखना है।

MUST READ : Budh Rashi Parivartan 2021- बुध का कुंभ में गोचर, इन राशियों को बनाएगा मालामाल

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/mercury-transit-2021-good-and-bad-effects-on-you-6645328/ IMAGE CREDIT: https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/mercury-transit-2021-good-and-bad-effects-on-you-6645328/

दरअसल सौर मंडल के सबसे छोटे ग्रह बुध (Mercury) को धरती से अपनी नंगी आंखों से देखना लगभग नामुमकिन सा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस हफ्ते आप इसे लगातार 4 रातों तक देख सकते हैं। वैसे तो इसे देखने के लिए आपको ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी, क्योंकि ये नंगी आंखों से दिखाई देगा, लेकिन यदि आपके पास अच्छी दूरबीन है तो ये नजारा और खूबसूरत हो जाएगा।

इस सप्ताह बुध ग्रह को ऐसे देख सकते हैं सीधे अपनी आंखों से…
जानकारों के अनुसार बुध ग्रह सूरज के सबसे ज्यादा नजदीक है, इसलिए आमतौर पर जब धरती पर दिन होता है तब ये आसमान में होता है लेकिन सूरज की रोशनी के आगे ये हमें दिखता नहीं है। वही ये सूरज का एक चक्कर 88 दिन में पूरा कर लेता है। ये सिर्फ तभी दिखता है जब ये अपनी कक्षा में सूरज से दूर होता है, यानी सूरज उगने से ठीक पहले या सूरज के डूबने के ठीक बाद…

see mercury planet this week through naked eyes

खास बात ये है कि इस सप्ताह यानि 23 जनवरी से 26 जनवरी 2021 की रात तक यही होने जा रहा है। इस दौरान बुध ग्रह सूर्य से दूर जाएगा और हमें नंगी आंखों से दिखाई देगा।

जानकारों के अनुसार इसे ग्रेटेस्ट ईस्टर्न इलॉन्गेशन (Greatest Eastern Elongation) कहते हैं।

ग्रेटेस्ट ईस्टर्न इलॉन्गेशन (Greatest Eastern Elongation) क्या है?
असल में बुध ग्रह अपनी कक्षा में सूरज से दूर जाता है तो इसे ग्रेटेस्ट इलॉन्गेशन कहते हैं। ये दो तरफ यानि पूर्व दिशा की तरफ और पश्चिम दिशा की तरफ होता है। इस बार पूर्व दिशा मतलब ग्रेटेस्ट ईस्टर्न इलॉन्गेशन (Greatest Eastern Elongation) है। इसलिए ये हमें शाम को सूरज के ढलने के 30 मिनट बाद आसमान में पश्चिम दिशा में दिखाई देगा। वहीं जब वेस्टरन इलॉन्गेशन होता है तब ये सूरज उगने से 30 मिनट पहले पूर्व दिशा में दिखाई देता है।

जानिए कब कहा और कैसे दिखेगा-
इस सप्ताह बढ़ ग्रह को सामान्य आंखों से देखने के लिए आपको बस यह जानना जरूरी है कि ये किस दिशा में आपको दिखाई देगा। विज्ञान प्रसारक सारिका घारू के अनुसार 23 जनवरी यानि शनिवार की शाम को बुध ग्रह आसमान में पश्चिमी दिशा में करीब 15 डिग्री के कोण पर दिखाई देगा।

आपकी स्थिति के आधार पर ये कोण थोड़ा बदल भी सकता है। ये शाम को सूरज के ढलने के ठीक 30 मिनट बाद से दिखाई देगा, लेकिन थोड़ी ही देर में ये आसमान की ऊंचाइयों में गायब भी हो जाएगा।

वही यदि आसमान साफ है तो आप इसे देर रात को भी देख सकते हैं। इस दौरान ये उत्तर दिशा की तरफ आसमान के अंत में नजर आएगा। अब ये जानना जरूरी है कि इस हफ्ते आप इसे सनसेट होने के बाद सूरज के दाहिने तरफ 18.6 डिग्री के कोण पर आसमान में चमकता हुआ देख सकते हैं।

वही यदि आप इसे देखने को लेकर काफी उत्साहित हैं लेकिन समय की कमी या अन्य कारणों के चलते ये मौका गंवा भी देते हैं, तो भी आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि इस साल 2021 में बुध ग्रह धरती से चार बार और नंगी आंखों से दिखाई देगा। 5 मार्च सूरज उगने से ठीक पहले, 9 और 10 मार्च को सूरज उगने से पहले दक्षिण-पूर्वी आसमान की तरफ, 13 मई से 29 मई तक सूरज ढलने के बाद और 4 दिसंबर को सूरज उगने के बाद लेकिन ये सिर्फ अंटार्कटिका में दिखाई देगा।


























Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here