लैपटॉप के हैंग होने की समस्या को ऐसे करें दूर, जानें ये काम के टिप्स

[ad_1]

कोरोना काल में अभी भी कई कंपनियां अपने एंप्लॉइज से वर्क फ्रॉम होम ही करवा रही हैं. वहीं बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिन्हें घर से काम करने के दौरान कंम्प्यूटर के हैंग होने या फिर स्लो चलने जैसी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. लेकिन विंडो अपडेट, रैम अपग्रेड और री-स्टार्ट कुछ ऐसे तरीके हैं जिनके जरिए आप इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं. आइए जानते हैं लैपटॉप हैंग होने की समस्या को कैसे दूर करें.

Restart भी है अच्छा ऑप्शन
बहुत सारे यूजर्स कई दिनों तक अपने लैपटॉप को री स्टार्ट नहीं करते हैं. वींडो 10 में कम्प्यूटर अपने आप स्लीप मोड में चला जाता है, लेकिन जो टास्क आपने बंद नहीं की होती, वह बैकग्राउंड में चलती रहती हैं. ऐसा ज्यादा लगातार समय तक होने के लैपटॉप स्लो हो जाता है. इसलिए अपना काम खत्म होने के बाद हर दिन लैपटॉप को बंद कर दें. इस तरीके से बैकग्राउंड में चलने वाले सभी टास्क बंद हो जाएंगी.

Update जरूर डाउनलोड करें
किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में कोई ना कोई दिक्कत आती ही रहती है. इन दिक्कतों को दूर करने के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम मुहैया करवाने वाली कंपनी अपडेट जारी करती है. इन अपडेट के जरिए ऑपरेटिंग सिस्टम में आ रही दिक्कतों का समाधान किया जाता है. इसलिए आपके लिए सिस्टम को अप टू डेट रखना बेहद जरूरी है. वींडो 10 में अपडेट चेक के लिए आप सेटिंग में जाएं और अपडेट पर क्लिक करें. इसके बाद आप Check for Updates के जरिए लेटेस्ट अपडेट पा सकते हैं.

इस्तेमाल नहीं होने वाली Apps डिलीट करें
आपके कम्प्यूटर का लैपटॉप में कई सारे Apps मौजूद होते हैं. कंपनियां नए लैपटॉप के साथ कई सारे ऐप्स भी देती हैं जिन्हें Bloatware कहा जाता है. अगर आपके कम्प्यूटर का लैपटॉप में ऐसे ऐप्स हैं जो आप इस्तेमाल नहीं करते हैं तो उन्हें डिलीट कर दें. वींडो 10 में आप Control Panel में जाकर Program सिलेक्ट करें और जिस ऐप को डिलीट करना है उस पर क्लिक करें. क्लिक करते ही आपको Uninstall का विकल्प मिलेगा.

RAM को अपग्रेड करें
RAM को बढ़ाने के लैपटॉप की स्पीड में काफी इजाफा होता है. 50 हजार रुपये से कम बजट के अधिकतर लैपटॉप 4GB रैम के साथ ही आते हैं. अगर आपको मल्टीटास्किंग काम करने हैं तो 4GB रैम काफी नहीं है. इसलिए आपके लिए रैम को अपग्रेड करना जरूरी है. ज्यादा कंपनियां लैपटॉप में दो रैम स्लॉट देती हैं. आप दूसरे स्लॉट में 4GB या 8GB की एक और रैम लगवाकर अपनी कंम्प्यूटर की स्पीड को बढ़ा सकते हैं.

SSD का इस्तेमाल करें
SSD (Solid State Drives) नए तरह का स्टोरेज डिवाइस है, जो कि फ्लैश मेमोरी पर काम करता है. SSD में इस्तेमाल होने वाली फ्लैश मेमोरी तकनीक की जरिए पहले से चलन में चली रही HDD से कहीं कम समय में डेटा को एक्सेस किया जा सकता है. SSD की कीमत HDD की तुलना में काफी ज्यादा है, लेकिन आप ओपरेटिंग सिस्टम ड्राइव के तौर पर SSD का इस्तेमाल करके लैपटॉप की स्पीड बढ़ा सकते हैं. डेटा स्टोर करने के लिए आप HDD को ही विकल्प के तौर पर रख सकते हैं.

System Maintenance को यूज करें
विंडो 10 में लैपटॉप की स्पीड को बनाए रखने के लिए System Maintenance का विकल्प दिया जाता है. System Maintenance के जरिए आप लैपटॉप के किसी पार्ट में आ रही दिक्कत की पहचान कर सकते हैं. इसके अलावा System Maintenance का इस्तेमाल कम्प्यूटर से वायरस को हटाने के लिए भी किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें

Tips: हर कोई नहीं कर पाएगा आपकी Facebook पोस्ट पर कमेंट, बस करना होगा ये काम

Tips: Third Party Apps के जरिए हैकर्स बनाते हैं अपना शिकार, ऐसे करें बचाव

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu