आखिर Neena Gupta ने क्यों कहा- ‘मुझे दमदार नहीं बल्कि बेचारी का रोल चाहिए’

0
198


जिंदगी में दूसरा मौका बहुत ही कम लोगों को मिलता है और दूसरा मौका मिल भी जाए तो जरूरी नहीं कि वो मौका आपकी जिंदगी बदलने वाला हो. लेकिन नीना गुप्ता दोनों ही सूरतों में लकी निकलीं. उन्हें जिंदगी ने दूसरा मौका भी दिया और उस मौके ने उनकी जिंदगी बदल भी दी. हम बात कर रहे हैं बधाई हो फिल्म की. जिसमें नीना गुप्ता ने रोल निभाकर अपनी तो जिंदगी बदली ही साथ ही फिल्म को एक अलग लेवल पर ला खड़ा किया.

वहीं नीना गुप्ता को उनके बिंदास बोल के लिए खासतौर से जाना जाता है. एक बार नीना गुप्ता ने बताया था कि जब उन्हें किसी दमदार रोल के लिए ऑफर आता है तो वो कहती हैं कि उन्हें दमदार नहीं बल्कि बेचारी वाला रोल चाहिए.

मुझे बेचारी का रोल चाहिए

दरअसल, नीना गुप्ता ने इंडस्ट्री में रोल के लिए होने वाली कॉस्टिंग पर बात की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि अक्सर उन्हीं लोगों को वो रोल दे दिया जाता है जो पहले उस तरह के रोल निभाते रहे हों. इससे नयापन नहीं आता है. ऐसे में जब उन्हें कोई कहता है कि आपका रोल काफी दमदार है तो वो कहती हैं कि मुझे दमदार नहीं बल्कि बेचारी का रोल चाहिए क्योंकि इसमें स्कोप ज्यादा है और नयापन भी. 

बता दें कि नीना गुप्ता ने अपने करियर की शुरुआत में ही काफी दमदार और हिम्मती महिलाओं के रोल निभाए थे. लेकिन उस दौर में महिलाओं का अपने लिए खड़ा होना उन्हें वैम्प की कैटेगरी में ला खड़ा करता था. नीना गुप्ता के साथ भी वैसा ही हुआ. उन्हें ऐसे ही किरदार ऑफर होने लगे जिससे उनकी इमेज को नुकसान पहुंचा और इसका सीधा असर उनके करियर पर पड़ा. लेकिन बधाई हो ने नीना गुप्ता की जिंदगी को बदलने में बड़ी भूमिका निभाई और अब नीना के पास काम की कोई कमी नहीं.

ये भी पढे़ंः जिनके सिर हो इश्क की छांव, पांव के नीचे जन्नत होगी: वो जोड़ियां जिन्होंने अपने इश्क से बना दी मिसाल



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here