Health Tips: जानिए कब न करें हल्दी का उपयोग, लापरवाही पड़ सकती है महंगी

0
166


Health Tips: हल्दी भारतीय रसोई का एक लोकप्रिय मसाला है. हल्दी में अद्भुत औषधीय गुण होते हैं और यह कई स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों के इलाज में बेहद लाभदायक है. ये घावों पर लगाने से घाव जल्दी भरते हैं. यह घुटने के दर्द का इलाज करने, हृदय रोग समेत कई चीजों में मददगार है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसके कुछ गंभीर दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं. इसलिए इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए. यह आमतौर पर पूरी तरह से सुरक्षित माना जाता है जब तक आप अधिक मात्रा में इसका सेवन नहीं करते हैं. चलिए जानते हैं हल्दी के संभावित दुष्प्रभावों के बारे में…

गर्भवती महिलाएं ना करें ज्यादा सेवन

इस बात में कोई शक नहीं है कि हल्दी एक बेहतरीन इम्यूनिटी बूस्टर है. इसे आमतौर पर प्रेग्नेंट महिलाओं के लिये सुरक्षित माना जाता है लेकिन इसका इस्तेमाल सीमित मात्रा में किया जाए. अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से यह मासिक धर्म को बढ़ावा दे सकता है या गर्भावस्था की स्थिति में खतरनाक हो सकता है.

अगर आप हल्दी का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो आपको कब्ज, दस्त, मतली, उल्टी, अपच, पीले मल और पेट में दर्द की शिकायत हो सकती है. हल्दी में ऑक्सालेट की एक महत्वपूर्ण मात्रा होती है. अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से पित्त पथरी के विकास का जोखिम बढ़ सकता है.

अगर आप गुर्दे (किडनी) की पथरी की समस्या से पीड़ित हैं तो अधिक हल्दी का सेवन करने से बचें. हल्दी का सेवन अगर आप सीमित मात्रा में करेंगे तो यह आपके स्वास्थ्य को कई तरह के लाभ प्रदान करने में मदद करेगी. हालांकि किसी भी तरह की समस्या होने पर डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

ये खबर रिसर्च के दावे पर है. ABP न्यूज़ इसकी पुष्टि नहीं करता. आप किसी भी सुझाव पर अमल या इलाज शुरू करने से पहले अपने एक्सपर्ट की सलाह जरूर ले लें.

 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here