Health Tips: अपनी इम्यूनिटी को करें बूस्ट, इन 3 तरीकों से खाएं गिलोय

0
209


Health Tips: कोरोना काल संकट में जिस चीज़ पर सबसे ज़्यादा ध्यान लोगों का केंद्रित है वो है खुद को हेल्दी रखना और अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाना. जिसके चलते मॉडर्न तरीकों से लेकर घरेलु नुस्खों को अपनाने तक लोगों ने अपनी जान झोंक दी है. लेकिन इन सब उपायों के बीच कोरोनावायरस महामारी के दौरान इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जिस एक जड़ी बूटी ने सभी का ध्यान खींचा, वो है गिलोय. गिलोय एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसका आयुर्वेदिक इलाजों में बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता है और इसे अक्सर अमरता की जड़ कहा जाता है.  गिलोय कई बीमारियों को शरीर में विकसित होने से रोकने में भी सक्षम है. काढ़े के अलावा आप गिलोय को कई अन्य तरीकों से भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं और इसका फायदा उठा सकते हैं. तो आइये जानते हैं गिलोय खाने के वो तीन असरदार तरीके.

कब्ज और गैस में बेजोड़ है गिलोय की चटनी

गिलोय पाचन में सुधार करने में सहायक होता है. ये कब्ज़, सूजन, अम्लता और गैस को कम करता है. गिलोय कमज़ोर पाचन तंत्र वाले लोगों के लिए अमृत सामान है. अगर आपको नियमित रूप से गैस की परेशानी रहती है या आप डायबिटीज के मरीज़ हैं तो आपको गिलोय का सेवन ज़रूरत करना चाहिए. आप गिलोय को खट्टी-मिठी चटनी के रूप में भी खा सकते हैं. इसे बनाने में ज़्यादा मेहनत नहीं लगती है. इसके लिए आप

-3 से 5 टमाटर और गिलोय की 2 पत्तियां लेकर एक साथ पीस लें

-कढ़ाई में हल्का  तेल डालें और गर्म होने दें

-गर्म तेल में कढ़ी पत्ता, दालचीनी और राई के कुछ दानें डाल लें

-फिर टमाटर और गिलोय का पिसा हुआ पेस्ट डालें

-हल्का सा लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, गुड़ और नमक डालें

– आखिर में पानी डालकर उबलने दें

-गाढ़ा हो जाने पर गैस बंद कर दें और हो गई तैयार आपकी गिलोय की चटनी

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में कारगर दही में गिलोय पाउडर

गिलोय विषाक्त पदार्थों को हटाकर रक्त को शुद्ध करने में मदद करता है. इसके अलावा ये अन्य रोग पैदा करने वाले बैक्टीरिया से भी लड़ता है. यह कमज़ोर लिवर वाले लोगों के लिए भी विशेष रूप से सहायक है और पैंक्रियाज़ से जुड़े रोगों का भी मुकाबला कर सकता है. वहीं ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए गिलोय बहुत ही फायदेमंद है. दरअसल ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए शरीर में हाई कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करना बहुत ज़रूरी है जिसमें गिलोय बेहत ज्कार्गर साबित होती है. आप गिलोय को दोपहर या रात के खाने में दही में मिलाकर भी खा सकते हैं. इसके लिए आप

-एक कटोरी दही में गिलोय के जड़ों को कूट कर मिला लें

-फिर इसमें काला नमक मिला लें और खाने के बाद इस दही का सेवन करें

गिलोय टॉनिक कर देता है तनाव की छुट्टी

गिलोय मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है. यह मानसिक तनाव को कम करने में मदद करता है और आपकी स्मृति को बढ़ाता है. साथ ही, ये आपके मन को शांत करता है और अन्य जड़ी-बूटियों के साथ मिलकर एक अद्भुत स्वास्थ्य टॉनिक बनाता है. गिलोय का ये टॉनिक अच्छी नींद में सहायक है. इस टॉनिक को बनाना बेहद ही आसान है. इसके लिए आप

-8 से 10 गिलोय के पत्ते, 2 बड़े चम्मच गुलाब जल और 2 टी स्पून  शहद लें

-गिलोय के पत्तों को दरदरा पीसकर बारीख पेस्ट बनाएं और इसमें शहद और गुलाब जल मिलाएं

-अब हर दिन सोने से पहले इसका एक चम्मच सेवन करें और गुनगुना पानी पी लें

इस तरह गिलोय का इस्तेमाल करना आपके शरीर को कई बीमारियों से बचाए रखता है. ये तीनों चीजें, न सिर्फ आपके शारीरिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हैं, बल्कि ये आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी हैं. तो अगर आपने गिलोय से बनी इन चीजों को अब तक ट्राय नहीं किया है, तो एक बार इन्हें जरूर ट्राई करें.

Signs Of Negative Energy: घर में नकारात्मक ऊर्जा के संकेत को ऐसे जानें, फिर करें ये आसान उपाय 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here