Health Tips: डायबिटीज को खतरनाक स्टेज पर जाने से रोक सकती हैं ये 8 बातें, रखें इनका ध्यान

0
170


Health Tips: डायबिटिक कॉम्प्लीकेशन्स को दो प्रकारों में बांटा जा सकता है: तीव्र (अचानक) और पुरानी (लॉन्ग टर्म). अक्सर ये देखा गया है कि एक लम्बे वक़्त से चली आ रही डायबिटीज की परेशानी आपके शरीर में कुछ ऐसी कॉम्प्लीकेशन्स पैदा कर देती हैं जो आपके शरीर के एक या अधिक भागों को नुक्सान पहुंचा सकती हैं. ऐसे में आपको डरने या घबराने की ज़रुरत नहीं हैं क्योंकि इसका इलाज संभव है, आपको महज़ उन 8 बातों का ध्यान रखना है जो आपके ऊपर से इस बीमारी के खतरे को कम करने में आपकी मदद कर सकती हैं.

1.एक्सरसाइज करना ज़रूरी

हर रोज थोड़ी बहुत एक्सरसाइज करते रहना आप के स्वास्थ्य के लिए एक बहुत अच्छी आदत है. व्यायाम आपके हृदय संबंधी जोखिमों, कोलेस्ट्रॉल और रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद करता है. साथ ही, व्यायाम वज़न कम करने और तनाव से छुटकारा दिलाने में भी सहायक है. इतना ही नहीं, व्यायाम को डायबिटीज कम करने के लिए भी एक कारगर उपाय माना जाता है.

2. वज़न पर लगाएं लगाम

ज़्यादा वज़न शुगर को बढ़ाने का एक अहम कारण माना जाता है. शुगर के अलावा बात करें तो, अधिक वज़न यानी शरीर में चर्बी का वास, ऐसे में मोटापे के शरीर को कई गंभीर बीमारियों का घर बनने में देर नहीं लगती. इसलिए ये ज़रूरी है कि आप अपना वज़न संतुलित रखें.

3. सही कार्ब्स चुनें

डायबिटीज का मतलब यह नहीं होता कि आपको कार्ब्स को पूरी तरह से काटना है. डायबिटीज में आपको ऐसे कार्बोहाइड्रेट चुनने चाहिये जो शरीर में धीरे-धीरे टूटकर स्थिर ऊर्जा प्रदान करते हैं. इसके लिए आप ताजा फल व सब्जियों को चुन सकते हैं. इसके अलावा मेवे, दाल व अनाज का प्रयोग भी कर सकते हैं.

4. नमक से रखें परहेज

आपको आप को डायबिटीज है तो आप कोशिश करें की जितना हो सके अपने खाने से नमक व चीनी को हटाएं. हो सके तो पूर्ण रूप से नमक का बहिष्कार करें. लेकिन अगर आप नमक के बिना नहीं रह सकते तो केवल काम चलाऊ मात्रा में नमक का प्रयोग करें और वह भी केवल सब्जियों में. आपको बता दें कि, डायबिटीज वाले लोगों को सोडियम का सेवन सामान्य तौर पर प्रति दिन 2,300 मिलीग्राम से कम करना चाहिए.

5. ब्लड शुगर को रोज़ चेक करना न भूलें

आप को रोज़ाना अपनी ब्लड शुगर को मापते रहना चाहिए क्योंकि इससे आप को पता लगता रहेगा कि आप की शुगर कब बढ़ती है और कब घटती है. अगर कुछ चीज़ खाने से अगले दिन आप की शुगर बढ़ जाती है तो बेहतर होगा कि आप उस चीज़ का सेवन करने से बचें. इससे आप को क्या खाना है और क्या नहीं , इसका पता चलता रहेगा.

6. स्ट्रेस से रहें दूर

अगर आप को बिना वजह स्ट्रेस या एंग्जाइटी रहती है तो आप इसे कम करने की कोशिश करें. इसके लिए आप योगा व मैडिटेशन का रास्ता अपना सकते हैं. जब आपको डायबिटीज होती है, तो तनाव आपके रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है. इसलिए किसी भी तरह के शारीरिक या मानसिक तनाव से बचना या निपटना ही बेहतर है.

7. धूम्रपान न करें

डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी में धूम्रपान का सेवन बेहद ही घातक और जानलेवा साबित हो सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि डायबिटीज में धूम्रपान आपके रक्तचाप और स्ट्रोक, दिल के दौरे, तंत्रिका क्षति और गुर्दे की बीमारी के जोखिम को कई गुना ज़्यादा तक बढ़ा देता है. इसके अलावा, ये आपके दिलऔर फेफड़ों के लिए भी बहुत हानिकारक है. धूम्रपान छोड़ना आपके लिए ज़रूरी ही नहीं सही भी है. इसका त्याग आपको नई और स्वस्थ ज़िन्दगी की ओर ले जा सकता है.

8. नींद का रखें पूरा ख्याल

बहुत अधिक या बहुत कम नींद आपकी आपकी भूख बढाने का काम करती है जिसके कारण आप उच्च कार्ब वाले खाद्य पदार्थो का सेवन ज़्यादा करने लगते हैं जो वज़न के साथ साथ हृदय रोगों को बढ़ाने में बहुत सहायक है. इसलिए रात में सात या आठ घंटे की नींद लें. अगर आप स्लीप एपनिया से ग्रसित हैं, तो इसका इलाज करवाने से आपकी नींद में सुधार हो सकता है और आपके ब्लड शुगर का स्तर कम हो सकता है.

Chanakya Niti: धन की देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करना है तो चाणक्य की इन बातों को जान लें

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here