Health Tips: तनाव में ज़्यादा खाने की आदत पड़ सकती है भारी, ऐसे रहें तनाव मुक्त और लगाएं आदत पर रोक

0
96


Health Tips: स्ट्रेस ईटिंग यानी कि तनाव की स्थिति में भोजन करना. इसे इमोशनल ईटिंग भी कह सकते हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप तनाव में होते हैं तो आप चाहे भूखे हों या न हों मगर आप कुछ न कुछ खाते ज़रूर हैं. इससे पहले की आप इसे कोई आम आदत समझें, आपको बता दें कि, ये आदत आपको कई गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकती है. इतना ही नहीं, इस आदत के कारण आपको लाइलाज मोटापे जैसी समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है. साथ ही, ये आदत आपके जीवनभर के खाने के रूटीन को भी खराब कर सकती है. इसलिए ये ज़रूरी हो जाता है कि आप तनाव के दौरान अधिक खाने वाली आदत को छोड़ दें. घबराइये मत इस काम में आपकी मदद करते हुए आज हम आपको इस समस्या से निपटने के उपाय और इस परेशानी के पीछे के कारण बताएंगे.

1. स्ट्रेस ईटिंग के कारण

स्ट्रेस ईटिंग करने के पीछे का सबसे बड़ा कारण है आपका दुखी होना या किसी बात से परेशान होना. अक्सर कुछ लोगों की आदत होती है तनाव के दौरान कुछ न कुछ खाते रहने की. ऐसा इसलिए क्योंकि उस वक़्त उन्हें भोजन आराम प्रदान करता है. ध्यान देने वाली बात ये है कि, तनाव में व्यक्ति पौष्टिक आहार के बजाये जंक फ़ूड की तरफ ज़्यादा रुख करता है. इसके लक्षण आप इस तरह से पहचान सकते हैं-

-बिना भूख के खाने की आदत

-टेंशन में किसी स्पेशल फ़ूड की तीव्र इच्छा

-हमेशा मन में खाना खाने की इच्छा

2. स्ट्रेस ईटिंग पर लगाएं रोक

-तनाव के कारणों को जानें

आजकल भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव हर किसी को ट्रिगर करने के साथ साथ खाने के लिए प्रेरित भी करता है. हर किसी के जीवन में कई ऐसी स्थितियां चल रही होती है जो उन्हें तनाव का शिकार बनाने का काम करती हैं. इससे छुटकारा पाना हर कोई चाहता है लेकिन ये इतना आसान नहीं होता. अगर आप अपने लक्षणों की पहचान कर लेते हैं तो नियंत्रण से बाहर होने से पहले आप तनाव से निपटने के लिए सही कदम उठा सकते हैं.

तनाव दूर करने के नए तरीके अपनाएं

तनाव एक नहीं बल्कि कई तरह के होते हैं जिनसे निपटने के लिए भी हमे कई अलग-अलग तरीकों की ज़रुरत पड़ती है. अगर आपके काम का माहौल तनावपूर्ण है तो ये आपको स्ट्रेस ईटिंग का शिकरा बना सकता है. ऐसे में आप अपने काम को हल्का कर उसे तनावमुक्त बनाने की कोशिश करें. इसके अलावा, घर के झगड़ों और गंभीर स्थितियों से निपटने के लिए मैडिटेशन का सहारा लें. इस तरह आप अलग-अलग तरीकों से इस तनाव की स्थिति से निपट सकते हैं और खुद को स्ट्रेस ईटिंग से दूर रख सकते हैं.

दूसरों की मदद लें

अगर आपके अपने तरीके स्ट्रेस ईटिंग को रोकने में कारगर नहीं हो पा रहे हैं तो इसके लिए आप तुरंत मदद मांगें. कई सामाजिक कार्यकर्ताओं और मनोवैज्ञानिकों को विशेष रूप से स्ट्रेस ईटिंग जैसे समस्या से निपटने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है. इस तरह आप स्ट्रेस ईटिंग से खुद को दूर रख सकते हैं.

नियमित भोजन करें

आमतौर पर कामकाज करने वालों को कभी भी भोजन की ललक लग सकती है. लेकिन अगर आप तनाव महसूस करते हैं तो आपको बार-बार खाना खाने से बचना चाहिए और खुद को एक खानपान के नियम से जोड़ना चाहिए. इससे आप स्ट्रेस ईटिंग से बच सकते हैं.

Chanakya Niti: चाणक्य नीति के अनुसार इन कार्यों को करने से लक्ष्मी जी होती हैं नाराज, कभी न करें ये काम



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here