ISRO के शीर्ष वैज्ञानिक का दावा- तीन साल पहले उन्हें दिया गया था जहर

[ad_1]

ISRO के शीर्ष वैज्ञानिक का दावा- तीन साल पहले उन्हें दिया गया था जहर

ISRO के एक शीर्ष वैज्ञानिक ने मंगलवार को दावा किया कि उन्हें तीन साल पहले जहर दिया गया था

बेंगलुरु:

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के एक शीर्ष वैज्ञानिक ने मंगलवार को दावा किया कि उन्हें तीन साल से अधिक समय पहले जहर दिया गया था.तपन मिश्रा ने आरोप लगाया कि उन्हें 23 मई, 2017 को यहां इसरो मुख्यालय में पदोन्नति साक्षात्कार के दौरान घातक आर्सेनिक ट्राइऑक्साइड जहर दिया गया था. उन्होंने कहा, ”दोपहर के भोजन के बाद ‘स्नैक्स’ में संभवत: डोसे की चटनी के साथ मिलाकर जहर दिया गया था.” मिश्रा फिलहाल इसरो में वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं और इस महीने के अंत में सेवानिवृत होने वाले हैं.

यह भी पढ़ें

उन्होंने फेसबुक पर ‘लॉंग केप्ट सीक्रेट’ नामक से एक पोस्ट में यह दावा किया कि जुलाई, 2017 में गृह मामलों के सुरक्षाकर्मियों ने उनसे मुलाकात कर आर्सेनिक जहर दिये जाने के प्रति उन्हें सावधान किया था. 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Newsbeep

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Main Menu