पहले से ज्यादा सुरक्षित हुआ इंटरनेट का इस्तेमाल, जानिए क्या है एयरटेल सिक्योर इंटरनेट

0
164


बीते एक साल में इंटरनेट पर हमारी निर्भरता पहले की तुलना में कहीं ज्यादा बढ़ गई है. महामारी की वजह से अधिकतर लोगों को वर्क फ्रॉम होम करना पड़ रहा है. इसके अलावा बच्चे भी घर पर रहकर ही अपनी पढ़ाई को आगे बढ़ा रहे हैं. अचानक से जिंदगी में आए इतने बड़े बदलाव की वजह से इंटरनेट हमारे लिए पहले से कहीं ज्यादा अहम हो गया है और इंटरनेट की स्पीड हमारे काम और पढ़ाई के लिए बेहद ही महत्वपूर्ण. वर्क फ्रॉम होम को आसान बनाने के लिए एयरटेल की एक्सट्रीम फाइबर सर्विस काफी मददगार रही है.

पिछले साल जब कोविड-19 की वजह से वर्क फ्रॉम होम की शुरुआत हुई तो बहुत सारे लोगों को इंटरनेट की धीमी स्पीड की वजह से काम करने में काफी परेशानी हो रही थी. लेकिन हमेशा की तरह भारत की सबसे पुरानी और बड़ी टेलीकॉम कंपनी समाधान बनकर सबके सामने आई. एयरटेल ने अपनी एक्सट्रीम सर्विस में ना सिर्फ 1GBPS की तेज स्पीड मुहैया करवाई, बल्कि इतनी ही ज्यादा स्पीड को सपोर्ट करने वाला राउटर भी बिल्कुल फ्री में उपलब्ध करवाया.
 
लेकिन इंटरनेट पर हमारी बढ़ती निर्भरता और हमारे सभी डिवाइस जैसे लैपटॉप, मोबाइल, स्मार्ट टीवी इंटरनेट पर कनेक्ट होने की वजह से डेटा को लेकर हमारी असुरक्षा का खतरा भी बढ़ गया. लेकिन एयरटेल अपने यूजर्स के लिए इस समस्या का समाधान भी लेकर आया है. एयरटेल ने अपने इंटरनेट सर्विस में सुरक्षा की एक और परत जोड़ दी है, जिससे ना सिर्फ आपका डेटा सुरक्षित रहता है, बल्कि आपको कई और विकल्प भी मिलते हैं. इस नई सर्विस का नाम एयरटेल सिक्योर इंटरनेट है.

एयरटेल सिक्योर इंटरनेट मुख्यतः दो चीज़ें करता है – सभी डिवाइसस को वाइरस और मालवेयर से बचाता है और आप तक क्या पहुंचे और क्या नहीं, इसका नियंत्रण आपके हाथ में देता है. इसके लिए एयरटेल 4 मोड्स मुहैया करवाता है, जिनमें वायरस प्रोटेक्शन, चाइल्ड सेफ, स्टडी मोड और वर्क मोड शामिल हैं. एयरटेल ने एक घर में सभी तरह के यूजर्स को ध्यान में रखते हुए इस सर्विस का इजाद किया है.

आखिर है क्या एयरटेल सिक्योर इंटरनेट

यह सर्विस वाइ-फ़ाई से जुड़े हर डिवाइस को तो बचाती ही है और साथ ही साथ आपको काम करने में भी मदद करती है. अक्सर काम के समय हमारा ध्यान सोशल मीडिया, स्ट्रीमिंग, गेम्स इत्यादि से भंग हो जाता है. लेकिन अब, एयरटेल सिक्योर इंटरनेट की मदद से आप जिस वेबसाइट या कंटेंट को ब्लॉक करना चाहें कर सकते हैं, ताकि काम के दौरान आप सिर्फ़ काम पर ध्यान दें. फिर ऑफिस के बाद आप फिर से इन सर्वीसेज़ को चालू कर सकते हैं. इसी प्रकार एयरटेल बच्चों के लिए भी इंटरनेट को सुरक्षित बनाता है.

इस सर्विस को इस्तेमाल करना बेहद ही आसान है. सिक्योर इंटरनेट को एयरटेल थैंक्स ऐप के जरिए एक्टिवेट किया जा सकता है. इस सर्विस का पहला महीना बिल्कुल मुफ़्त है और उसके बाद हर महीने आपको केवल 99 रुपये ही खर्च करने होंगे.

सिक्योर इंटरनेट को थैंक्स ऐप के जरिए ही मैनेज भी किया जा सकता है. थैंक्स ऐप से आप अपने सिक्योरिटी मोड को ऑपरेट कर सकते हैं. ऐप में आपको उन लोगों की लिस्ट भी मिलेगी जिन्हें फ्रॉड की रिपोर्ट के आधार पर ब्लॉक किया गया है.

तो अगर आप भी अपने परिवार की सुरक्षा को महत्ता देते हैं तो एयरटेल सिक्योर इंटरनेट सर्विस को ज़रूर सबस्क्राइब करें.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here