बुलेट ट्रेन के लिए 88 किलोमीटर के वायाडक्ट बनाने ठेका एलएंडटी को

0
89


Photo:FILE PHOTO

Representational Image

नई दिल्ली. बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 88 किलोमीटर लंबे वायाडक्ट निर्माण का 7,289 करोड़ रुपये का ठेका लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) को मिला है। कंपनी ने इसके लिए निकाली निविदा में सबसे कम बोली लगायी थी। देश में मुंबई-अहमदाबाद के बीच 508 किलोमीटर लंबी बुलेट ट्रेन परियोजना पर काम चल रहा है। नेशनल हाईस्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएचएसआरसीएल) इसका विकास जापान के सहयोग से कर रहा है। 

एनएचएसआरसीएल ने एक बयान में कहा, “वडोदरा और अहमदाबाद के बीच 88 किलोमीटर लंबे वायाडक्ट के डिजाइन और निर्माण के लिए एलएंडटी ने सबसे कम बोलियां लगायी। इस वायाडक्ट के तहत आणंद/नाडियड में स्टेशन का निर्माण भी शामिल है।”

बोलियां आज खोली गयीं और उसमें एलएंडटी की बोली विजयी रही।

निविदा के तहत एलएंडटी समेत कुल सात निर्माण कंपनियों ने समूह बनाकर निर्माण के लिए तीन बोलियां जमा की थीं। इसमें एक समूह एफ्कॉन्स इंफ्रास्ट्रक्चर, इरकॉन इंटरनेशनल, जेएमसी प्रोजेक्ट्स इंडिया का और दूसरा समूह एनसीसी लिमिटेड, टाटा प्रोजेक्ट्स, जे.कुमार इंफ्रा प्रोजेक्ट्स, एचएसआर का था। एनएचएसआरसीएल एलएंडटी को परियोजना के तहत 237 किलोमीटर के वापी से वडोदरा के वायाडक्ट निर्माण का ठेका पहले ही दे चुकी है। इसमें चार ऊपरगामी रेलवे स्टेशन वापी, बिलमोरा, सूरत और भरूच एवं सूरत में ट्रेन डिपो का निर्माण शामिल है। इस ठेके का मूल्य 24,985 करोड़ रुपये है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here