सेल अपने संयंत्रों से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने में जुटा

0
157


प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) देश में  लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) को उपलब्ध कराने की चुनौती को पूरा करने में अपनी बड़ी भूमिका निभा रही है. सेल पहले ही जरूरत के अनुसार अगस्त, 2020 से 36,747 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति कर चुका है. देश में  लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की मांग में वृद्धि के साथ, सेल ने इस महीने की शुरुआत से ही उत्पादन बढ़ाने पर जोर देना शुरू कर  दिया था. पिछले छह दिनों में, कंपनी ने अपने संयंत्रों से प्रति दिन औसतन 660 मीट्रिक टन लिक्विड  मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की है. अकेले 21 अप्रैल को कंपनी ने लिक्विड  मेडिकल ऑक्सीजन के 891 मिट्रिक टन की आपूर्ति की है.

यह भी पढ़ें

लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति प्रक्रिया और उपकरणों को बेहतर में बनाने के लिए पहले ही कदम उठाए जा चुके हैं. सेल ने  लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए अपने संयंत्रों में प्रक्रिया मापदंडों के अनुकूलन के अलावा गैसीय ऑक्सीजन, नाइट्रोजन और आर्गन का उत्पादन कम किया है. आपातकालीन जरूरत के इस समय के दौरान, सेल मजबूती से राष्ट्र के साथ खड़ा है और अपने संयंत्रों से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन के उत्पादन को बढ़ाने के लिए हर तरह से तैयार है. संयंत्रों को एलएमओ के उत्पादन को अधिकतम करने और ऑक्सीजन टैंकरों के टर्नअराउंड समय को कम करने पर जोर दे रहा है.

भारतीय रेल और इस्पात मंत्रालय की मदद से सेल अपने बोकारो स्टील प्लांट से एक रैक लोड करने की योजना बनाई है. यह लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन  की  बड़ी मात्रा में निकासी और निश्चित स्थान पर तेजी से पहुंचने में बहुत मदद करेगा.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here