Surya namaskar benefits | सूर्य नमस्कार के फ़ायदे | सूर्य नमस्कार कैसे करें

0
103
Surya namaskar benefits | सूर्य नमस्कार के फ़ायदे | सूर्य नमस्कार कैसे करें

सूर्य नमस्कार के 10 फायदे | जानिए किनके लिए वर्जित है सूर्य नमस्कार :

Surya namaskar 12 प्रकार के विभिन्न योगासनों को मिलाकर बनाया गया है, इसमें हर एक आसान का अपना एक अलग ही महत्त्व है, इसे नित्य करने वाले का हृदय अच्छा होता है, साथ ही शरीर में रक्त का संचार भी समुचित होता है, सूर्य नमस्कार के द्वारा आप अपने मानसिक तनाव को कम कर सकते हैं, इसके द्वारा शरीर को शुद्ध करने में मदद मिलती है, “Surya namaskar benefits, सूर्य नमस्कार के फ़ायदे, सूर्य नमस्कार कैसे करें ” आइए डालते हैं एक नजर सूर्य नमस्कार के विभिन्न 10 लाभों पर:

1. इससे आपका स्वास्थ्य उत्तम होता है :

सूर्य नमस्कार को नित्य क्रिया में शामिल कर सही तरीके से किया जाए तो आपके जीवन में सकारात्मक ऊर्जा आएगी. 12 आसनों के दौरान गहरी सांस लेनी होती है जिससे शरीर को फायदा होता है.

सूर्य नमस्कार कैसे करें हिन्दी में जानने के लिए क्लिक करें

2. बेहतर पाचन तंत्र के लिए :

सूर्य नमस्कार के दौरान उदर के अंगों की स्ट्रेचिंग होती है जिससे पाचन तंत्र सुधरता है. जिन लोगों को कब्ज, अपच या पेट में जलन की शिकायत होती है, उन्हें हर सुबह खाली पेट सूर्य नमस्कार करना फायदेमंद होगा. “Surya namaskar benefits, सूर्य नमस्कार के फ़ायदे, सूर्य नमस्कार कैसे करें

3. सूर्य नमस्कार करने से पेट का कम होना :

इन आसनों से उदर की मांसपेशियों में मजबूत आती है. अगर इन्हें नित्य किया जाए, तो पेट की चर्बी कम होती है. Surya namaskar benefits

4. डिटॉक्स करने में भी मदद मिलती है :

इन सभी आसनों के दौरान सांस साँस खींचने और छोड़ने से फेंफड़े तक हवा पहुंचती है. इससे खून तक ऑक्सीजन पहुंचता है जिससे शरीर में मौजूद कार्बन डाइऑक्साइड और बाकी जहरीली गैस से छुटकारा मिलता है. “Surya namaskar benefits, सूर्य नमस्कार के फ़ायदे, सूर्य नमस्कार कैसे करें

Click here to read how to do surya namaskar in hindi

5. इसके द्वारा दूर रहेगी हर प्रकार की चिंता :

सूर्य नमस्कार करने से स्मरण शक्ति में वृद्धि होती है और नर्वस सिस्टम अच्छा व सुदृढ़ होता है जिससे आपकी चिंता दूर होती है. सूर्य नमस्कार से एंडोक्राइन ग्लैंड्स खासकर थॉयरायड ग्लैंड की क्रिया सामान्य होती है.

6. शरीर में काफ़ी लचीलापन आता है :

सूर्य नमस्कार के आसन से पूरे शरीर का वर्कआउट होता है. इससे शरीर फ्लेक्सिबल होता है. “Surya namaskar benefits, सूर्य नमस्कार के फ़ायदे, सूर्य नमस्कार कैसे करें

यह भी पढ़ें : History of mangalsutra | मंगलसूत्र का इतिहास | भारतीय परिधान

7. मासिक-धर्म की क्रिया रेगुलर होती है :

यदि किसी महिला को अनियमित मासिक चक्र की समस्या है, तो सूर्य नमस्कार के आसन करने से परेशानी दूर होगी. इन आसनों को रेगुलर करने से बच्चे के जन्म के दौरान भी दर्द कम होता है.

8. रीढ़ की हड्डी को मिलती है मजबूती :

सूर्य नमस्कार के दौरान तनाव से मांसपेशी व लीगामेंट के साथ रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है और कमर लचीला होता है.

9. सूर्य नमस्कार से आप सदैव रहेंगे जवान :

सूर्य नमस्कार करने से चेहरे पर झुर्रियां देर से आती हैं और स्किन में तेज आता है.

यह भी पढ़ें : Festivals of India – KUMBHAMELA | भारतीय त्योहार – कुंभमेला

10 वजन कम करने में मदद मिलती है :

सूर्य नमस्कार करने आप जितनी तेजी से वजन कम कर सकते हैं, उतनी जल्दी डायटिंग से भी फायदा नहीं होता. अगर इसे तेजी से किया जाए तो ये आपका बढ़िया कार्डियोवस्कुलर वर्कआउट हो सकता है. “Surya namaskar benefits, सूर्य नमस्कार के फ़ायदे, सूर्य नमस्कार कैसे करें

सूर्य नमस्कार कौन कौन लोग ना करें :

– गर्भवती महिलाएँ तीसरे महीने के गर्भ के बाद से इसे करना बंद कर दें
– हर्निया व उच्च रक्ताचाप के मरीजों को सूर्य नमस्कार न करने की सलाह दी जाती है
– पीठ दर्द की समस्या से ग्रस्त लोग सूर्य नमस्कार शुरू करने से पहले उचित सलाह जरूर लें Surya namaskar benefits
– महिलाएं पीरियड के दौरान सूर्य नमस्कार और अन्य आसन न करें

Facebook page : Click here

Note:

यदि आपके पास Hindi में कोई  article,  inspirational story, recipe  या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: indiafeel.com@gmail.com. पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here